रविवार, 13 फ़रवरी 2011

भोपाल की मेरी प्रस्तावित एक दिनी यात्रा

मेरे भोपाल जाने के कई युक्तियुक्त कारण रहते हैं मगर जाने की बारम्बारता फिर भी कम रहती है -मगर मैं मौके की प्रतीक्षा करता रहता हूँ-इस बार की यात्रा सुखद और दुखद कारणों के मेल से हो रही है.सुखद कारण यह कि विज्ञान संचारकों /लेखकों की बैठक में शिरकत करनी है और ठीक वैलेंटाईन के दिन ही अपनी एक चिर परिचिता मित्र के साथ सानिध्य के कुछ पल गुजारने को मिल जायेगें और एक वैलेंटाईन डिनर पार्टी की सौगात भी. दुखद कारण यह कि सुब्रमणियम साहब को धर्म पत्नी का शोक,हाँ  उनसे मिलकर शोक संवेदना भी प्रगट कर सकूंगा .
लिहाजा यह कार्यक्रम  बन गया है -
प्रस्थान: ३ बजे अपराह्न  बनारस से कामायनी एक्सप्रेस द्वारा १३.२.११ 
आगमन : ७ बजे प्रातः हबीबगंज रेलवे स्टेशन,भोपाल  १४.२.११
ब्रेकफास्ट एवं अवस्थान :अपनी मित्र सुश्री कंचन जैन के साथ १० बजे तक 
प्रस्थान: भविष्य की दुनिया सेमिनार स्थल स्कोप कैम्पस ,आईसेक्ट ,मिसरोद 
सेमिनार में सहभागिता :५ बजे सायंकाल तक ...
चिट्ठाकार पी एन सुब्रमणियन जी से मिलकर धर्मपत्नी के निधन पर शोक संवेदना :६-7 बजे 
रिजर्व टाईम एवं वैलेंटाईन पार्टी : मित्र के साथ :७ से ११ बजे, तदन्तर 
शयन होटल आमेर ग्रीन 
१५.२. ११.
प्रस्थान इटारसी के लिए :९ बजे 
इटारसी से बनारस : १२ बजे महानगरी एक्सप्रेस 

कोई भूले भटके ब्लॉगर बन्धु भी इस दौरान मिल जायं तो फिर सोने में सुहागा! 

30 टिप्‍पणियां:

  1. ये अच्छी खबर है। मुझे भी आपसे मिलने का अवसर मिल जाएगा। :)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  2. हम 16 को भोपाल छू रहे हैं, कोई सम्भावना?

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  3. आपने तो पूरा टाइम टेबल ही प्रस्तुत कर दिया. चलिए, यात्रा मंगलमय हो. सुब्रमणियम साहब की पत्नी के निधन का दुखद समाचार आपसे ही मिला. हमारी संवेदना उनके साथ है. उम्र ले इस मोड़ पर जीवनसाथी की आवश्यकता सबसे अधिक होती है और इसीलिये उसकी कमी सबसे ज्यादा खलती है.उनसे कहियेगा कि दूर सही हम उनके साथ हैं.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  4. श्री सुब्रमनियन से मेरी और से भी संवेदना प्रेषित करने की कृपा करें !
    सादर

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  5. .

    डॉ. अरविन्द जी, मैंने आपके कार्यक्रम पढ़, एक जगह उसमें ['भविष्य की दुनिया' में] आपकी चर्चा छात्रों के बीच होगी.
    क्या आप अपने प्रश्नों में एक बात शामिल कर पूछ सकते हैं कि
    "क्या अब तक हो चुकी वैज्ञानिक [इलेक्ट्रोनिक] उन्नति सार्कालिक है? चिर स्थायी है?
    क्या इतनी उन्नति हमारे पिछले समय नहीं देखी होगी? क्या इस संभावना का अंदेशा भी नहीं है?"

    .
    भूत में सोचा भविष्य
    है बना हुआ नवीन
    आज़, कल नवीनता से
    वह भी होगा विहीन.
    .

    यात्रा मंगलमय हो. सार्थक हो.
    आपके दूसरे उद्देश्य में हमारी भी पूरी संवेदना आपके साथ रहेगी.

    .

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  6. सुब्रह्मनियन जी के साथ काफी समय बीता है, ज्‍यादातर अच्‍छा, एकाध दुखद प्रसंग में भी साथ रहे. इस बीच प्रबल इच्‍छा के बाद भी उन तक खुद न पहुंच पाने का अफसोस है.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  7. हमारी शुभकामनाऎं आप के लिये.
    सुब्रमनियन जी को हमारी तरफ़ से भी ढाढास दे

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  8. सुब्रमनियन जी को हमारी ओर से ढाढ़स दीजियेगा !

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  9. यात्रा की मंगलकामना..
    वैलेंटाइन दिवस के लिये प्रणय कामना...
    और सब्रमनियन साहब के लिये हमारी भी सम्वेदना पहुँचाएँगे!

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  10. सेंमीनार और आपकी यात्रा सफल रहे।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  11. कार्यक्रम का शेड्यूल बहुत अच्छा है। पहले पढ़ाई फिर शोक अंत में वैलेंटाईन पार्टी...सारी थकान दूर। निश्चय ही यात्रा सफल साबित होगी।
    ...मंगल शुभकामनायें।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  12. इस सुखद यात्रा के लिए हार्दिक शुभकामनाये

    regards

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  13. `इस बार की यात्रा सुखद और दुखद कारणों के मेल से हो रही है'
    >
    >
    जीवन इक नदिया है
    सुख दुख दो किनारे हैं....:( :)

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  14. घर वापिसी के लिये अग्रिम बधाई। यात्रा मंगलमय हो। शुभकामनायें।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  15. भोपाल से नागपुर ज्यादा दूर नहीं है। नागपुर से वर्धा बहुत नजदीक है। लेकिन कुछ गुंजाइश नहीं दिख रही है। खैर हमारी भी शुभकामनाएँ लीजिए। भोपाल की रिपोर्ट की प्रतीक्षा रहेगी।

    मैं २१ फरवरी को दिन में तीन-चार घंटे बनारस में रहूँगा।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  16. आपकी यात्रा सुखद एवं सफल हो.शुभकामनाये.

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  17. भोपाल से आकर एक अच्छी पोस्ट,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,संस्मरणात्मक

    प्रतीक्षा है।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  18. "मौन मुखर है यहाँ" लेख मौन के महत्त्व पर सम्यक् प्रकाश डालता है।
    मौन चिन्तन का प्रथम सोपान है।
    हमें ऐसे ही विद्वत्तापूर्ण लेख की प्रतीक्षा है।

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं
  19. अग्रिम शुभकामनाएं....हमसे भी लेते जाएँ....

    प्रत्‍युत्तर देंहटाएं

यदि आपको लगता है कि आपको इस पोस्ट पर कुछ कहना है तो बहुमूल्य विचारों से अवश्य अवगत कराएं-आपकी प्रतिक्रिया का सदैव स्वागत है !

मेरी ब्लॉग सूची

  • FEATURE: WATCH: Make your milk come alive - We’re immediately trying this at home. All you need to recreate this awesome experiment is milk, food colouring and a drop of dish soap.
    5 घंटे पहले
  • नदी की तरह - *नदी की तरहबहते रहे तोसागर से मिलेंगे,थम कर रहे तोजलाशय बनेंगे,हो सकता है किआबो-हवा कालेकर साथ,खिले किसी दिनजलाशय में कमल,हो जा...
    5 वर्ष पहले
  • Terminator Salvations teaser trailer - http://www.youtube.com/watch?v=kXnELk6pZVk a2a_linkname="Terminator Salvations teaser trailer";a2a_linkurl="http://www.scifirama.com/index.php/2008/07/443/";
    5 वर्ष पहले

ब्लॉग आर्काइव