रविवार, 11 जुलाई 2010

बिटिया से बाजी लगा ली है नीदरलैंड्स जीतेगा!

आज का वर्ल्ड फ़ुटबाल कप फाईनल देखने की व्यग्रता बढ रही है ...मैं जल्दी सो जाता हूँ ..मगर आज तो जगना है ..या यह हो सकता है कि अभी तो सो लूं मगर मैच के समय जग जाऊं .मगर कैसे ? अलार्म भी कभी कभी नीद के आगे हार जाता है .अब इसके लिए कुछ तो त्याग करना पड़ेगा ..बेटी प्रियेषा घर आई है छुट्टियों में और फुटबाल में उसकी रूचि देखकर मुझे प्रसन्नता है और इस बात की आश्वस्ति कि उसकी सक्रियता के चलते मैं भी इस रोमांचक मैच का दर्शक बन बैठूंगा!मगर चिंता यह है कि अगर उसने नहीं जगाया तो मैं तो इन अविस्मरणीय क्षणों से वंचित हो जाउंगा! इसलिए एक युक्ति लगाई -मैंने उससे पूछा कि कौन जीतेगा तो उसने झट से जवाब दिया ..स्पेन ! यही तो पॉल बाबा भी कह रहे हैं ...अनवरत वाले दिनेश राय जी भी यही कह रहे हैं ,वर्ड फ़ुटबाल कप के दीवाने गिरिजेश जी से मैं पूछ नहीं पाया ...संगीता जी के पास वर्ल्ड फुटबाल कप का प्रयाप्त गत्यात्मक आकड़ा ही नहीं है ...

अब किसी बड़े लाभ के लिए कुछ तो त्याग करना पड़ता ही है -मैंने नीदरलैंड्स पर ढाई सौ रूपये का दांव  लगा दिया है -इस बाजी को सुनकर बिटिया की आँख में चमक आ  गयी है -उसने यह बाजी सहर्ष स्वीकार कर ली है ...उसे लगता है उसे यह रकम आसानी से हासिल हो जायेगी! वह सीने पर चढ़कर ले भी लेती है ...मैंने ऐसा उसका उत्साह बनाये रखने और खुद को समय पर जगाने के बतौर  पारिश्रमिक देने के लिए किया है .वैसे भी दिल्ली विश्वविद्यालय में जाने के बाद वह निशाचरी हो गयी है .मगर आज तो यही वृत्ति  एक वरदान सी लग रही है  -एक छुपा हुआ वरदान!

एक और कारण है नीदरलैंड्स के फेवर में बाजी लगाने का -मैं यह भी चाहता हूँ अंधविश्वास फैलाने वाले पॉल बाबा की हार हो जाय और विज्ञान और तर्क का कुछ तो भला हो ! यह पूरी दुनिया ही जैसे एक परले दर्जे की बेवकूफी के पीछे पडी हुई है ..पॉल बाबा कहे तो जीत और वे कहें हार तो हार ..हद है भाई!

ठीक है स्पेन की टीम बहुत संयत होकर और समन्वय बनाकर खेल रही है और उसका मनोबल भी ऊँचा है और पॉल बाबा उसे सपोर्ट कर बैठे हैं पर नीदरलैंड्स की हार सुनश्चित ही है यह कैसे कहा जा सकता है .माना कि क्रिकेट में कब क्या हो जाय कुछ नहीं कहा   जा सकता मगर फुटबाल में भी अनिश्चितता की कुछ फीसदी संभावना तो होती ही होगी ....सांख्यिकी का साधारण  सा सिद्घान्त भी हार जीत की  पचास पचास  फीसदी की भवितव्यता की ओर  इशारा तो करता ही है ..
..
मुझे बहुत खुशी होगी अगर नीदरलैंड्स जीत जाता है -केवल इसलिए नहीं कि मैं शर्त जीत जाऊंगा ..बल्कि इसलिए कि पॉल बाबा अपने शीशमहल में दुबक जायेगें और लोगों में अक्ल का प्रादुर्भाव होगा! और अगर स्पेन जीतता है तो मेरा बेड़ा चारो ओर से गर्क समझिये ....क्या आप भी बाजी लगायेगें .मुझसे,  नहीं तो क्या किसी से भी नहीं ? जल्दी कीजिये बहुत कम वक्त बाकी है !

42 टिप्‍पणियां:

  1. अगर सटोरियो के हाथ खेल रहा तो समझिये, नीदरलैण्ड की जीत पक्की...वरना जो अच्छा खेले. :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. बिना पर्याप्‍त आधार के न तो मैं भविष्‍यवाणी करती हूं .. और न ही बाजी लगाती हूं .. यहां तो दुविधा ऐसी कि एक ओर आप है .. तो एक ओर बिटिया रानी .. आज अमावस्‍या का दिन है और सूर्यग्रहण भी .. कुछ भी उल्‍टा पुल्‍टा हो सकता है .. किसी प्रकार का दावा करना बेकार है !!

    उत्तर देंहटाएं
  3. मुझे लगता है बिटिया के साथ रहना चाहिए मुझे. इससे उसका मनोबल और बढेगा, आपका विज्ञानं आज हारे तभी चलेगा . .हा हा और स्पेन जीतेगा तो अपने खेल से पाल बाबा की भविष्यवाणी से नहीं.

    उत्तर देंहटाएं
  4. आज तो आप की हार निश्चित है भाई ......

    उत्तर देंहटाएं
  5. पाल बाबा पर तो मेरा भी विशवास नही है, लेकिन आप शर्त हार गये जी, कारण आज का मेच तो होगा खुब रोमांच कारी, ओर दोनो टीमे जीत के लिये अपनी जान तक लडायेगी, क्यो कि दोनो ने अभी तक यह ताज हासिल नही किया, ओर दोनो ही टीमो मै बहुत अच्छे खिलाडी भी है, लेकिन फ़र्क थोडा सा है स्पेन के खिलाडी अपना धोर्या नही खोते जल्द फ़ाऊल नही करते, ओर नीदर लेंड वाले... आप देख ही लेना,लेकिन यह मेच होगा बहुत ही रोमांच कारी बिटिया को तो अभी पेसे दे दो... नीदर लेंड पहले भी दो बार यहां तक आया है, लेकिन स्पेन पहली बार फ़ाईनल मै आया है, अब देखे आप जीताते है या बिटिया......वेसे आप को जीता भी दे तो बच्चो को हराना भी अच्छा नही लगता :)ओर मै तो कई बार जीत कर भी जान कर हार जाता हुं उन की एक मुस्कान के लिये

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुख दुखे समे कृत्वा लाभालाभौ जयाजयौ ...

    उत्तर देंहटाएं
  7. आर्जेन रॉबिन के फ़ैन हो लिये हैं हम तो. इसी लिये नीदरलैण्ड पर ही अपनी भी रकम है.

    उत्तर देंहटाएं
  8. aap jeetein ya fir bitiya rani...mujhe dono mein barabar khushi hogi !

    उत्तर देंहटाएं
  9. जीते कोई भी घी खिचड़ी में ही रहेगा :)

    उत्तर देंहटाएं
  10. अपना विश्वकप तो जर्मनी के साथ ही खत्म हो गया पर फ़िर भी स्पेन के जीतने की संभावनाएँ ज्यादा है, पर नीदरलैंड्स भी जीतने का दम रखती है, वैसे हम नीदरलैंड्स के साथ हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  11. हमारे मुंबई के बेजान दारूवाला का कहना है कि मैच के अंतिम ग्यारह मिनट में ही मैच का निर्णय होना है...अब मुझे ये भी देखना है....पॉल, मनी और बेजान दारूवाला...देखें किसकी बात सही साबित होती है...बस खेल अच्छा होना चाहिए.
    वैसे बिटिया जीत जाए तो वो ले ही लेगी नहीं...तो आप अपने जीतने की ख़ुशी में दे दीजियेगा...:)

    उत्तर देंहटाएं
  12. अरविन्द जी ! हम तो दिल से चाहते हैं कि आप हार जाएँ ! हाँ हाँ खुल कर कह रहे हैं ....इसमें दोनों खुश रहेंगे ...है ना ??

    उत्तर देंहटाएं
  13. अरविंद जी,

    मान रखने के लिए जान बूझकर हार जाने की आपकी फितरत है .....यह बनारस यात्रा के समय देख चुका हूँ :)

    अब तो लगता है आपके ढाई सौ गए :)

    उत्तर देंहटाएं
  14. पंडित जी! आपकी “वैज्ञानिक सोच” पर अब एक बड़ा प्रश्न चिह्न लग गया है... आपके अनुसारः
    ठीक है स्पेन की टीम बहुत संयत होकर और समन्वय बनाकर खेल रही है और उसका मनोबल भी ऊँचा है
    इसके बावजूद भी आप चाहते हैं कि वो हॉलेंड से इस कारण हार जाए कि तथाकथित पॉल बाबा ( जिनके बारे में कहा जा रहा है कि वो यूरोपीय सटोरियों की एक कॉन्स्पिरेसी है) ने उस टीम के जीतने की घोषणा कर दी है... ऐसी सोच दो कौड़ी की है जो यह मानती है कि स्पेन जीत गया तो विज्ञान हार जाएगा, या वैज्ञानिक सोच हार जाएगी.
    मुझे बहुत खुशी होगी अगर नीदरलैंड्स जीत जाता है -केवल इसलिए नहीं कि मैं शर्त जीत जाऊंगा ..बल्कि इसलिए कि पॉल बाबा अपने शीशमहल में दुबक जायेगें और लोगों में अक्ल का प्रादुर्भाव होगा! और अगर स्पेन जीतता है तो मेरा बेड़ा चारो ओर से गर्क समझिये ....
    पंडित जी आप यह कैसे भूल गए कि सिंगापुर के तोता मणी और भारत के नंदी बैल नामक दो जीवों ने हॉलेंड के जीतने की घोषणा कर रखी है… अगर इसी दकियानूसी सोच से चला जाए तो स्पेन के हारने पर भी विज्ञान ही एक के स्थान पर दो वोटों से हारेगा.
    पुनश्च: बिटिया प्रियेषा मैं आपके साथ हूँ.

    उत्तर देंहटाएं
  15. अपन को कोई फर्क नहीं .......कोई भी जीते .....अपनी टीम अर्जेंटीना तो पहले ही बाहर हो गयी है !

    उत्तर देंहटाएं
  16. मैं तो कहता हूँ की स्पेन ही जीतेगा

    उत्तर देंहटाएं
  17. ई कौन बात भई? सिरफ एक लिजलिजे परानी को झूठा साबित करने के लिए स्पेन को हरवाएँगे?
    स्पेन ही जीतेगा, देख लीजिएगा।
    वैसे आठ भुजाओं वाला प्राणी स्वभावत: गत्यात्मक होता है। सो उसकी बात को अधिक भाव नहीं देने का, क्या!
    चलूँ टी वी पर शकीरा का शो देखने।
    वर्ड नहीं वर्ल्ड । ठीक कर लीजिए।
    @ अली जी
    हा हा हा।

    उत्तर देंहटाएं
  18. .
    .
    .
    मैं नारंगी सपोर्टर हूँ...अत: हॉलैंड की ही जीत होती देखना चाहूंगा आज, हॉलैंड ही जीतेगा भी आज, राबेन और श्नाईडर दोनों गोल भी करेंगे...यही मैं मना रहा हूँ।


    ...

    उत्तर देंहटाएं
  19. बेटीयाँ तो हार कर भी वसूल ही लेती हैं :) may the best win.

    उत्तर देंहटाएं
  20. अब जो भी हो जीतेगा तो स्पेन ही :)

    उत्तर देंहटाएं
  21. वैसे हमारा मन भी स्पेन की ही गवाही दे रहा है और वो भी दो गोल के अन्तर से :)

    उत्तर देंहटाएं
  22. इति श्री स्कंद पुराणे रेवा खण्डे श्री पॉल बाबाय फीफा कथायाः!!!

    उत्तर देंहटाएं
  23. Paul baba ki jai!
    jeet hi gaye aakhir :D...team ka naam baad mein pahle log paul baba ki jeet ka jshn manaa rahe hain..
    ------------
    :)
    ----------
    star news walon ne aaj aap ke Shahar Banaras ki khabar dikha dikah kar hairaan kar diya...'Bebbo ..Sorry'ke posters ka zikr/charcha zoron par hai...
    -------Unke anusaar sare shahr ki diwaron.teelon par ye poster lage hue hain..aur police ab tak pakad nahin paayi ki kaun kar raha hai?

    उत्तर देंहटाएं
  24. आपका बेडा गर्क हो ही गया ....!

    उत्तर देंहटाएं
  25. haan haan poore Rs.-2500/

    shart lagaakar raay mangne ke kaaran penalty thok dee gayee hai aap par !


    ...kuch kuch vaise hee jaise kamre me ghus aana ...fir "may , i come in?"

    उत्तर देंहटाएं
  26. लो जी , अष्टपाद भी हार गया , और आप भी ।
    अब शुक्र मनाएं कि बाज़ी २५० की ही थी ।

    उत्तर देंहटाएं
  27. विपरीत धारा मे तैरना कोई आपसे सीखे अन्धविश़्वासों की दुनिया मे सान्खयिकीय सिधान्त काम नही करते
    आपने 250 रूपये का सटटेबाजी की मानक के विपरीत था आपको तो रेटिंग के हिसाब से सट्टा लगाना चाहिये था या आपका इरादा बेटी के बचे पैसे हड्पने का था
    अभी तक मैने पाल की भविष्य्वाणी पर ज्यादा ध्यान नही दिया था लेकिन ये काशी के पन्डित क्यो खामोश बैठे थे इसका कारण समझ नही आता क्रिकेट मे तो बडा दखल देते रहते है

    उत्तर देंहटाएं
  28. एक और कारण है नीदरलैंड्स के फेवर में बाजी लगाने का -मैं यह भी चाहता हूँ अंधविश्वास फैलाने वाले पॉल बाबा की हार हो जाय और विज्ञान और तर्क का कुछ तो भला हो ! यह पूरी दुनिया ही जैसे एक परले दर्जे की बेवकूफी के पीछे पडी हुई है ..पॉल बाबा कहे तो जीत और वे कहें हार तो हार ..हद है भाई!

    आ गया न पहाड ऊंट के बगल में! बेटियों से कोई बाप जीता है कभी?

    उत्तर देंहटाएं
  29. आखिर जीत ही गया पॉल,बेजान दारूवाला और हारा विज्ञान -मगर संतोष यह की जीत नैतिकता की हुयी -मेरे हार का गम तो बिटिया की विजयी मुस्कान से तत्क्षण दूर हो गया ...जो मेरे पक्ष में रहे और मुझमें विश्वास रखा उनका चिर ऋणी हूँ ...चाहता तो मैं भी था योग्य टीम ही जीते और वह जीती भी मगर अंधविश्वासियों को भी जीता गयी -यह सदमा तो अभी भी है ..काशी के आज के पंडित सब बकलोल हो गए हैं ...अनुराग जी बेटी से भला कौन जीता है ,सच कहा आपने .कुछ लोग मेरे बेडा गर्क होने पर जश्न मना रहे हैं ..ये नहीं जानते की कभी उनका भी हो सकता है !

    उत्तर देंहटाएं
  30. @सकीरा की करामत को लेकर गिरिजेश जी व्यग्र (वियाग्रा और व्यग्रता में कितना साम्य है न ?) दिखे थे -मैंने आश्वस्त किया था जश्न तो मैच के बाद होगा -वे मैं सो गया था वे जागते रहे थे-अब जीत के बाद क्या हुआ बतायेगें गिरिजेश भाई अपने चिट्ठे पर --बताईये न भाई ,हमें इंतजार है !
    @ @प्रवीण शाह और अन्यान्य तर्कमित्रों से आग्रह है कि ऐसी अल्पायु हारों से घबारने का नहीं है ...हम अपनी मुहीम जारी रखेगें ! !

    उत्तर देंहटाएं
  31. मैं तो हमेशा बेटिओं का साथ देती हूँ\ शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  32. दुःख है आप हार गए.. ज्यादा तकलीफ है पॉल जीत गया..

    वैसे आपको हारने की बधाई... जीती तो आखिर बिटिया ही है न...

    उत्तर देंहटाएं
  33. बिटिया को जीत की बधाई और आपके साथ सहानुभूति है. भविष्य मे सोचसमझ कर दांव लगाईयेगा.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  34. बेहद उम्दा पोस्ट के लिए बहुत बहुत बधाइयाँ और शुभकामनाएं!

    आपकी चर्चा ब्लाग4वार्ता पर है यहां भी आएं

    उत्तर देंहटाएं
  35. राम राम, मालिक ब्लाग पढने में थोडी देर हो गई,
    अब तो बिटिया नें बाज़ी मार ली है। :-)

    वईसे अच्छा है, छोटी मोटी शर्त लगानें का अपना मजा है।

    उत्तर देंहटाएं
  36. हा..हा..हा..आज पढ़ रहा हूँ तो हँसी रोके नहीं रुकती..

    उत्तर देंहटाएं
  37. ओह तो आप बिटिया को खुश करने के लिए और समाज से अंधविश्वास दूर करने के लिए नीदरलैंड्स पर बाजी लगाकर हार बैठे...च्च्च्च्च ! बिटिया रानी तो खूब खुश होंगी.

    उत्तर देंहटाएं
  38. हमें पॉल से भी पहले पता था स्पेन जीतेगा। बस समस्या यही है कि हम भविष्यवाणी नहीं करते। वे मानव समाज के लिए घातक हैं।

    उत्तर देंहटाएं

यदि आपको लगता है कि आपको इस पोस्ट पर कुछ कहना है तो बहुमूल्य विचारों से अवश्य अवगत कराएं-आपकी प्रतिक्रिया का सदैव स्वागत है !

मेरी ब्लॉग सूची

ब्लॉग आर्काइव