बुधवार, 7 सितंबर 2011

बिग बोर बाडीगार्ड

जब सुना कि अकेले ईद के ही दिन बाडीगार्ड ने कई करोड़ का व्यवसाय कर लिया तो दबंग अभिनेता की इस नयी फिल्म में सहज ही रूचि  हो आयी ..घरवाली भी इस अभिनेता की फैन हैं ...सो कल देख ही आयी फिल्म...और बेहद निराश हुआ ....बड़ी बोर फिल्म है ....केवल सलमान खान के फैन बिरादरी की जेबें खाली करने के शुद्ध व्यावसायिक मनोवृत्ति का ही परिणाम है बाडीगार्ड! 

मैं इस फिल्म को यहाँ समीक्षा के योग्य ही नहीं पा रहा था किन्तु केवल और केवल इस उद्येश्य से कि मेरे मित्र ब्लॉगर बन्धु कहीं अपनी जेबें और समय इस पर खाली न कर आयें यह आगाह पोस्ट है -समीक्षा  नहीं! बगल के आडी की कोई और फिल्म भले ही चुन लें जो इससे बेहतर ही होगी ...इस फिल्म के मार धाड़ के सीन भी ज्यादा रोमांचित नहीं करते .....

कहानी पिटी पिटायी है -फिल्म के ख़तम होते होते निर्देशक की कुछ मेहनत जरुर दिखी है लेकिन तब तक पूरी फिल्म ग्रिप से फिसल चुकी थी ....कहीं कोई तर्क नहीं, कहीं कोई तारतम्य नहीं ..फंतासी ही बनानी थी तो भैये फिर काहें को एक सुबक सुबक कथा ठूंसा  ....?और वह भी हास्यास्पद ..झोल दर झोल .... हीरोइन  करीना अपनी ताजगी खो चुकी हैं ,हाँ शुरुआती आईटम सांग -डांस में कैटरीना कैफ का जलवा जरुर दिखा मगर फिर वे फिल्म में कहीं नहीं दिखीं .....तो एक यह आशा की एक  किरण भी लुप्त हो रही ...
मत कीजियेगा पैसा बर्बाद -इसलिए ही यह आगाह पोस्ट! 
एकाध स्टार कहें तो दे दूं!  


27 टिप्‍पणियां:

  1. हम तो कर चुके पैसा बर्बाद. आप की जैसी अपनी भी राए है.

    उत्तर देंहटाएं
  2. :) हम तो वैसे ही नहीं देखने वाले थे.

    उत्तर देंहटाएं
  3. घरवाली भी

    यहाँ "भी" शब्द का इस्तमाल किया हैं आप ने । यानी क़ोई बाहरवाली हैं जिसको सलमान पसंद हैं ।

    उत्तर देंहटाएं
  4. @वाह क्या पकड़ा है ,सचमुच कोई और "भी " है !:)

    उत्तर देंहटाएं
  5. अभी तक तो नहीं सोचा था, लेकिन अब देखना ही पड़ेगा कि कितनी बोर है.

    उत्तर देंहटाएं
  6. मैं तो वैसी भी हकीम "सुलेमान" से दूर ही रहता हूँ!!

    उत्तर देंहटाएं
  7. हम तो बड़ी उम्मीद लगाये बैठे थे, दबंग जैसी।

    उत्तर देंहटाएं
  8. आभार. वैसे पता नहीं कब पिछली फिल्म देखी थी और सिनेमा हॉल में तो ...
    यह फिल्म तो बिल्कुल नहीं देखेंगे.
    घुघूती बासूती

    उत्तर देंहटाएं
  9. प्रीव्यू देखकर कुछ अंदाजा तो हो ही गया था कि फिल्म सिर्फ सलमान के फेन्स ko फुसलाकर लाने के लिए बनाई गई है.

    उत्तर देंहटाएं
  10. हमको तो इत्ता पता है कि ई फिलम के हिट होय मा आपौ का थोड़ा हाथ है.कल आप दिखे हैं और ऊ सौ करोड़ कै बिजनेस कइ लिहा.पइसा खूब आय रहा है,यही से तो मतलब है !

    उत्तर देंहटाएं
  11. हूं...तो कोई और भी है? फ़िर तो पैसे वसूल हो गये मिश्रजी.:)

    रामराम

    उत्तर देंहटाएं
  12. हूं...तो कोई और भी है? फ़िर तो पैसे वसूल हो गये मिश्रजी.:)

    रामराम

    उत्तर देंहटाएं
  13. फिर एक बोर फिल्म देख आए !
    लेकिन इस बार हम कोई तजुर्बा नहीं करेंगे ।
    आभार सचेत करने के लिए ।

    उत्तर देंहटाएं
  14. आप आम ब्लागर के पैसे के पर्सगार्ड हैं। उनके पैसे की सुरक्षा के लिये पोस्ट तक की बाजी लगा देते हैं। जय हो!

    उत्तर देंहटाएं
  15. मत कीजियेगा पैसा बर्बाद -इसलिए ही यह आगाह पोस्ट!
    एकाध स्टार कहें तो दे दूं!
    दे दो ! भाई साहब !इतनी भी कृपणता किस काम की .
    Thursday, September 8, 2011
    तिहाड़ कर्मियों के लिए री -ओरिएंटेशन प्रोग्रेम .
    बुधवार, ७ सितम्बर २०११
    किस्मत वालों को मिलती है "तिहाड़".

    उत्तर देंहटाएं
  16. अच्छा किया बता दिया॥ वैसे भी, हम फिल्म देखने नहीं न जाते :)

    उत्तर देंहटाएं
  17. यह फिल्म एक ख़ास वर्ग के लिए है....और उस वर्ग को खूब पसंद आ रही है.
    यहाँ के अखबार में....एक ऑटोवाले से एक फिल्म समीक्षक का वार्तालाप छपा है.....जिसमे ऑटोवाला रास्ते भर मुग्ध होकर इस फिल्म का मय दृश्य वर्णन करता गया...और तिबारा देखने की बात कही.

    अब सबकी पसंद एक जैसी नहीं हो सकती.

    उत्तर देंहटाएं
  18. सलमान ने वैसे भी सिर्फ़ मनोरंजन की ठान ली है, और इस आधार पर एक फिक्स दर्शक वर्ग भी बना लिया है. अब उस स्तर का मनोरंजन कितनों के अनुकूल रह पाता है, यह अलग बात है.

    उत्तर देंहटाएं
  19. @रश्मि जी,
    यह समीक्षा ब्लागरों को मुखातिब है! क्या आपका आशय है कि यहाँ...... ? :)

    उत्तर देंहटाएं
  20. बहुत उम्मीद लेकर बैठे थे देखने...काश! आप पहले लिख देते तो समय बचता....कतई पसंद नहीं आई...जाने कैसे ऐसा बिजनेस कर रही है.

    उत्तर देंहटाएं
  21. @समीर जी,
    लिख तो हम पहले ही चुके थे अब देर से आप यहाँ आयें तो मेरी गलती कहाँ ?:)

    उत्तर देंहटाएं
  22. वैसे भी फिल्मों में कोई ख़ास रूचि नहीं है. आपने आगाह कर दिया, आभार.

    उत्तर देंहटाएं

यदि आपको लगता है कि आपको इस पोस्ट पर कुछ कहना है तो बहुमूल्य विचारों से अवश्य अवगत कराएं-आपकी प्रतिक्रिया का सदैव स्वागत है !

मेरी ब्लॉग सूची

ब्लॉग आर्काइव